Breaking News
Home / खेल / पद्मश्री युवराज सिंह ने क्रिकेट को कहा अलविदा

पद्मश्री युवराज सिंह ने क्रिकेट को कहा अलविदा

भारतीय क्रिकेट के हीरो रहे युवराज सिंह ने क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। ऑलराउंडर युवराज सिंह ने कहा कि यह उनके लिए काफी भावनात्मक पल है और उनका करियर एक रोलर-कोस्टर की तरह रहा है। युवराज ने कहा कि वह काफी समय से रिटायरमेंट के बारे में सोच रहे थे और अब उनका प्लान आईसीसी द्वारा मान्यता प्राप्त टी-20 टूर्नामेंट्स में खेलने का है। युवराज ने अपना अंतिम टेस्ट साल 2012 में खेला था।

युवराज ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 304 वनडे और 58 टी-20 मैच खेले। टेस्ट में युवराज ने तीन शतकों और 11 अर्धशतकों की मदद से कुल 1900 रन बनाए जबकि वनडे में उन्होंने 14 शतकों और 52 अर्धशतकों की मदद से 8701 रन बनाये। युवराज ने 2008 के बाद कुल 231 टी-20 मैच खेले हैं और 4857 रन बनाए हैं. उन्होंने टी-20 मैचों में 80 विकेट भी लिए हैं।

2011 में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में भारत ने दूसरी बार आईसीसी वर्ल्ड कप जीता था। युवराज ने उस वर्ल्ड कप में 362 रन (एक शतक और चार अर्धशतक) बनाने के अलावा 15 विकेट भी लिए थे और चार बार मैन ऑफ द मैच के अलावा प्लेअर ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए थे।युवराज पहले ऐसे ऑलराउंडर हैं, जिन्होंने किसी विश्व कप में 300 से अधिक रन बनाने के अलावा 15 विकेट भी हासिल किए हों.

वर्ल्ड कप के बाद युवराज का अमेरिका में लम्बे समय तक कैंसर का इलाज चला।2007 में भारत ने टी-20 वर्ल्ड कप जीता था, तब युवराज ने इंग्लैंड के गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ओवर में छह छक्के लगाने का कारनामा किया था। भारत सरकार ने साल 2012 में उन्हें अर्जुन पुरस्कार दिया और फिर दो साल बाद देश के चौथे सबसे बड़े नागरिक अलंकरण-पद्मश्री से नवाजा।

Loading...
Loading...