Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / खाली पेट योग का बिल्कुल नहीं करना चाहिए अभ्यास

खाली पेट योग का बिल्कुल नहीं करना चाहिए अभ्यास

हमारे जीवन में योग बहुत ही महत्वपूर्ण हैं इससे हमारा स्वास्थ्य पूर्ण रूप से स्वस्थ रहता हैं। योग के लाभों को रीटेलिंग की आवश्यकता नहीं होती है। यह हमारे दिमाग के साथ-साथ शरीर को बेहतर बनाने में भी भरपूर मदद करता है और सम्पूर्ण कल्याण में योगदान देता है। यह त्वचा को भी पूर्ण्तः लाभ देता है। योग नियमित रूप से उचित मार्गदर्शन के तहत रक्त परिसंचरण को पूरी तरह बढ़ाता है जो स्वस्थ त्वचा में आगे दर्शाता है। अभ्यास के लाभों को बढ़ावा देने और दूसरों को प्रोत्साहित करने के लिए नियमित 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाया जाता है।

“आपको खाली पेट पर योग का अभ्यास कतई नहीं करना चाहिए”। “योग करने से पहले एक केला आपको लेना चाहिए। यह फल आपकी ऊर्जा को बढ़ावा देगा। “वह कहती हैं योग करते समय पानी पीने में भी पूर्ण्तः सावधानी बरतनी चाहिए।

योग का अभ्यास करने के बाद पानी पीने के लिए जल्दी नहीं करनी चाहिए। नाश्ते से पहले आधा घंटे इंतजार करना करे और योग का अभ्यास करने से पहले और बाद में चिकना खाना या कैफीन से बचने के लिए पूर्ण्तः सावधान रहना चाहिए। “आपका नाश्ता प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन और खनिजों में समृद्ध होना चाहिए।” “शाकाहारियों के पास बहुत सब्जियों के साथ पनीर, क्विनोआ, बेसन का चीले का आपको सेवन अवश्य करना चाहिए”।

“योग उचित मार्गदर्शन के तहत किया जाना चाहिए और किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य और लाभों को ये बढ़ाता है।” “प्रतिदिन योग शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लाभ को उठाता है। यह शरीर में आपकी त्वचा और रक्त परिसंचरण में भी सुधार करता है ताकि कोशिकाओं और ऊतकों का ऑक्सीजन बढ़ाया जा सके। यह आपकी त्वचा में बेहतर स्थिति से प्रतिबिंबित है।

Loading...