Thursday , December 12 2019
Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / ख़तरनाक हो सकता है इन चीज़ों का ज़्यादा सेवन

ख़तरनाक हो सकता है इन चीज़ों का ज़्यादा सेवन

जंक फ़ूड एक लत बन गयी है जिसमे हमारे देश के बच्चे और युवा फंसते जा रहे है। सभी जानते हैं कि जंक फ़ूड हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक है फिर भी सभी खाते हैं क्योकि ये चीजे खाने में बेहद स्वादिष्ट और देखने में बेहतरीन होते है जिस वजह से सभी इसकी और खिचे चले जाते है। टीवी पर आ रही विज्ञापनों से भी सभी इन चीजो की तरफ ज्यादा आकर्षित होते है।

जंक फ़ूड अर्थात वो फ़ूड जिसको आकर्षक बनाने में ऐसी कई चीजो और रसायनों का प्रयोग होता है जो हमारी सेहत के लिए हानिकारक होते है। इन चीजो में शामिल है बर्गर, पिज़्ज़ा, आलू चिप्स, कोल्ड ड्रिंक्स, केक, पेन केक्स, रेडी मेड जूस आदि।

मधुमेह

कुछ सालो पहले शुगर की बीमारी सिर्फ बड़े बुजुर्गो को हुआ करती थी लेकिन आजकल बच्चे और युवावर्ग भी मधुमेह के शिकार हो रहे है। मधुमेह होने का सबसे बड़ा कारण होता है गलत खान पान। वो लोग इस बीमारी के ज्यादा शिकार होते है जो जंक फ़ूड ज्यादा खाते है। मधुमेह से दूर रहना है तो जंक फ़ूड से दूर रहना होगा।

मोटापा

सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण नुक्सान है वजन का बढ़ना। जो लोग बहुत ज्यादा जंक फ़ूड खाने के आदि है उनका वजन बहुत तेजी से बढ़ता है क्योकि जंक फ़ूड में कैलोरीज बहुत ज्यादा होती है।
इतनी सारी कैलोरीज लेने की वजह से वजन बढता जाता है और इतना वजह बढ़ना हृदय के लिए नुकसानदायक होता है। इस चीज का शिकार ज्यादातर वो बच्चे होते है जो दूसरे शहरों में पढने या नौकरी के लिए जाते है।

दिल की बीमारी

दिल की बीमारी के प्रमुख कारणों में से एक है सोडियम का अधिक मात्रा में सेवन। बहुत सारे जंक फ़ूड जैसे पिज़्ज़ा, फ्रेंच फ्राइस और आलू के चिप्स आदि में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है। शरीर में ज्यादा सोडियम जाने की वजह से दिल की बीमारियाँ जैसे उच्च रक्तचाप और हार्ट अटैक जैसी खतरनाक परेशानियाँ होने का डर बना रहता है। डॉक्टर के अनुसार अगर कोई व्यक्ति एक दिन में 500 मिलीग्राम सोडियम वाली चीजे खाता है तो उसको स्ट्रोक होने का खतरा 17 परसेंट तक बढ़ जाता है। इसलिए बच्चो को आलू के चिप्स से दूर रखे।

दांतों की बीमारियाँ

शायद आप जानते होगे कि जितने भी जंक फ़ूड होते है उनको बनाने में चीनी का इस्तेमाल होता है। कुछ जंक फ़ूड जैसे केक, पेस्ट्री, चॉकलेट्स, कोल्ड ड्रिंक्स आदि में चीनी का अधिक प्रयोग होता है। जो लोग जंक फ़ूड का ज्यादा इस्तेमाल करते है उन्हें उम्र से पहले ही दांतों की बीमारियाँ लग जाती है जैसे दांतों का सड़ना, दांतों का पीलापन, मसुडो का फूलना, जीभ से सम्बंधित बीमारियाँ। ये सभी परेशानियाँ जंक फ़ूड की देन है।

ऊपर बताई गई बीमारियों के अलावा जो लोग जंक फ़ूड ज्यादा खाते है उनको स्ट्रेस, दिमागी कमजोरी, कमजोर हड्डियाँ जैसी कई बीमारियां हो जाती है। सबसे बड़ा खतरा होता है गर्भवती स्त्रियों को। जो गर्भवती स्त्रियाँ ज्यादा जंक फ़ूड खाती है उनके बच्चो का विकास ठीक तरह से नही होता और उनके बच्चो का दिमाग कमजोर रह जाता है।

नियंत्रण कैसे करें?

जब भी कोई जंक फ़ूड ख़रीदे उन पर लिखी जानकारी को ध्यान से पड़े। अगर किसी चीज को बनाने में कई तरह की चीनी का इस्तेमाल हुआ है और कृतिम रंग और कृतिम मिठास का प्रयोग हुआ है तो वो न खाए। जिन खाद्य सामग्री में फाइबर, साबुत अनाज, विटामिन्स, मिनरल्स, कैल्शियम की सही मात्रा हो वो ही खाए। जितना हो सके घर पर बने जूस का सेवन करे और घर पर भी बनाते वक्त चीनी का कम प्रयोग करे।

Loading...
Loading...