Saturday , September 26 2020
Home / लाइफस्टाइल / गर्भावस्था के दौरान क्या खाये और क्या नहीं

गर्भावस्था के दौरान क्या खाये और क्या नहीं

जो महिलाएं गर्भावस्था के दौरान या स्तन-पान के समय मछली खाती हैं, उनके बच्चों में सांस की बीमारियां और अस्थमा का जोखिम बहुत कम हो जाता है। शोध में पता चला है कि 11 महीने की उम्र से पहले जिन बच्चों को मछली और अंडे खिलाए गए (जो कि ओमेगा-3 फैटी ऐसिड के स्रोत हैं) उनमें ऐलर्जी होने का खतरा बहुत कम हो जाता है ।

स्वीडन की चालमर्स यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी के शख्स ने एक बयान में कहा, ‘जो परिवार मछली का सेवन करता है उनमें ऐलर्जी का खतरा बहुत कम हो जाता है।’

जो बच्चे अपनी शुरुआती जिंदगी में मछली, अंडे और आटे  की बनी चीज़ें खाते हैं, उनमें ऐलर्जी का खतरा न के बराबर होता है क्योंकि उनके खून में ओमेगा-3 का स्तरबहुत ज्यादा हो जाता है। शोध के नतीजों में बताया गया है कि जन्म के समय और फिर चार महीने की उम्र में, स्वस्थ बच्चों के खून में ओमेगा-3 फैटी ऐसिड की मात्रा बहुत ज्यादा होती है।

उन्होंने बताया, ‘यह स्तर , मां द्वारा मछली खाए जाने से सीधे तौर पर जुड़ा हुआ है। जो माताएं गर्भावस्था और स्तन-पान के दौरान बहुत ज्यादा मछली खाती हैं, उनके खून में ओमेगा-3 की मात्रा ज्यादा होती है, इसका सबूत मां के दूध में भी देखा जा सकता हैं।’

Loading...