Wednesday , September 23 2020
Home / भारत / बहुत जल्द होगी कोयला स्रोत के आवंटन पर अंतर मंत्रालयी समिति की बैठक

बहुत जल्द होगी कोयला स्रोत के आवंटन पर अंतर मंत्रालयी समिति की बैठक

कंपनियों के लिए कोयला आपूर्ति-स्रोत के आवंटन को तर्कसंगत बनाने के लिए गठित अंतर मंत्रालयी कार्यबल की बैठक इसी सप्ताह होगी। आपको बता दे की यह कार्यबल कोयला स्रोत आवंटन को तर्कसंगत बनाने की व्यवहार्यता पर विचार कर रहा है। इसमें आयातित कोयले की अदला बदली भी शामिल है।

यह घटनाक्रम ऐसे समय हुआ है जबकि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-नवंबर की अवधि में कोयले का आयात तकरीबन 9.7 प्रतिशत बढ़कर लगभग 15.60 करोड़ टन पर पहुंच गया है। अंशधारकों को सरकार की ओर से भेजे नोटिस में कहा गया है कि एक अंतर मंत्रालयी कार्यबल कोयला स्रोतों या ब्लाकों के आवंटन को और अधिक तर्कसंगत बनाने की संभावना का अध्ययन कर रहा है।

इसमें आंतरिक इलाकों में भेजे जाने वाले आयातित कोयले को तटीय क्षेत्रों में परिवहन किए जाने वाले घरेलू कोयले से अदला बदली करने का भी विचार शामिल है। नोटिस में यह कहा गया है कि इस बारे में नियमन वाले क्षेत्रों के उपभोक्ताओं के साथ 21 दिसंबर को बैठक बुलाई गई है।

कोयला मंत्रालय ने परिवहन की लागत को महत्तम करने के लिए अंतर मंत्रालयी कार्यबल का गठन किया है। यह कार्यबल मौजूदा कोयला संसाधनों की वृहद समीक्षा करेगा और साथ ही स्रोतों को तर्कसंगत बनाने की व्यवहार्यता का भी पूर्ण्तः अध्ययन करेगा।

Loading...