Wednesday , September 23 2020
Home / लाइफस्टाइल / पान के पत्तों में मसूड़ों में खून आने की समस्या का इलाज है

पान के पत्तों में मसूड़ों में खून आने की समस्या का इलाज है

वैसे तो हर इंसान को पान बेहद पसंद होता हैं,क्योंकि यह स्वाद के साथ-साथ सेहत का भी ध्यान रखता हैं। पान का पत्ता कई रोगों से निजात दिलाता है।

मगर इसका ख्याल रखना चाहिए कि पान के साथ जर्दा का यूज नहीं कीजिए। पान के पत्ते के साथ अगर कपूर, पिपरमिंट का यूज किया जाए तो ये सर्दी-जुकाम से लेकर अल्सर और मोटापे की परेशानी से छुटकारा दिलवाता है।

-पान के पत्ते को अगर काली मिर्च के साथ यूज किया जाएं तो ये मोटापा की समस्या भी दूर करता है। जो इंसान कमजोर या दुर्बल है। उसके लिए पान का पत्ता काफी लाभकारी होता है।

-अगर आप कब्ज की समस्या से ग्रसित हो, तो आप पान का सेवन कीजिए, यह सेहत के लिए लाभकारी होगा।

-अगर मुंह में छाले हो जाएं तो आप पान का यूज कीजिए, इससे छाले दूर हो जाएंगे।

एसिडिटी की मुख्य वजह हैं ये चीजें, नहीं करें सेवन!

-पान में लौंग डालकर खाने से जुकाम की परेशानी दूर होती है।

-इसके पत्ते चबाने से डायबिटीज भी नियंत्रित रहता है।

-इसमें कपूर और पिपरमिंट डालकर खाने से पायरिया की परेशानी दूर हो जाती है। इसका रस अंदर जाने पर पेट के लिए भी फायदेमंद होता है।

कीजिए पाइनएप्पल का सेवन, सेहत को मिलेंगे कई लाभ!

-अगर मसूड़ों में खून आ रहा हैं तो आप पान के पत्तों को पानी में उबाल लीजिए। फिर पत्ते को मसलकर मसूढ़े पर लगाए। खून बंद हो जाएगा। अगर सिगरेट की लत हो और छूट नहीं रही है, तो पान का पत्ता चबाने से सिगरेट की लत दूर हो जाती है।

यह भी पढ़ें-

बासी रोटी डायबिटीज दूर करने में सहयोगी है

Loading...