Home / लाइफस्टाइल / सिरदर्द को नजरअंदाज करना हो सकता है बहुत ज्यादा घातक

सिरदर्द को नजरअंदाज करना हो सकता है बहुत ज्यादा घातक

सिर दर्द की समस्या कुछ लोगों को बार-बार परेशान करती रहती है। जब अचानक से सिर दर्द करने लगे तो ऐसा लगता है कि जैसे जिंदगी विल्कुल थम सी गई है। यूं तो सिरदर्द होना बहुत आम बात होती हैं पर हम आप को बता दें की सिरदर्द कोई बिमारी नहीं बल्कि उसका खास लक्षण होता हैं। सिरदर्द कई कारणों से हो सकता है । सिरदर्द में माइग्रेन एक बहुत ही सामान्य कारण है। इसमें दर्द बहुत तेज होता है और आमतौर पर यह युवाओं में होता है। उम्र बढऩे के साथ-साथ यह स्वत: कम हो जाता है। पर आपकों यह बता दे कि इसे कभी-भी सामान्य समस्या समझकर नहीं छोड़ना चाहिए,क्योंकि कभी-कभी यह बहुत ही ज्यादा घातक भी साबित हो सकता हैं।

सिरदर्द कई प्रकार के होते हैं तथा इसके अलग-अलग कारण हैं। कुछ सिरदर्द बिल्कुल सामान्य कारणों से हो सकता है, जैसे-चिंता, रात में पूरी नींद नहीं लेना तथा थकावट आदि। थोड़ी-बहुत सावधानी एवं आराम से इस तरह का सिर दर्द स्वत: ठीक हो जाता है, लेकिन वैसे सिरदर्द जो रोज-रोज सता रहा हो तब परेशानी बढ़ जाती है। कभी-कभी सिरदर्द के साथ उल्टी तथा बेहोशी होना, चमकी आना, आंख की रोशनी में कमी, बुखार, दर्द की वजह से दो-तीन बजे सुबह में नींद खुलना, शरीर का कोई अंग शिथिल पडऩा, सिर पर हथौड़े जैसा चोट का अहसास जैसे लक्षण हों तब इसे कभी भी उपेक्षा नहीं करनी चाहिए। इस हालत में तत्काल चिकित्सक से संपर्क करनी चाहिए। सिरदर्द की वजह में साधारण चिंता से लेकर ब्रेन हैमरेज, ब्रेन ट्यूमर और मेनिन्जाइटिस जैसी घातक बीमारियां शामिल हैं।

Loading...
Loading...