Home / भारत / ‘टिड्डी दल’ के आतंक से जयपुर के किसान चिंतित, अबतक 5 बार हो चुका है टिड्डी दल का हमला

‘टिड्डी दल’ के आतंक से जयपुर के किसान चिंतित, अबतक 5 बार हो चुका है टिड्डी दल का हमला

जयपुर : राजस्थान में किसानों के लिए टिड्डी दल आंतक का पर्याय बन चुके हैं। इस बार राजधानी जयपुर में हालात बेकाबू हो सकते हैं। हालात की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर डॉ. जोगाराम ने जयपुर को ‘लोकस्ट इनवेजन एनडेंजर्ड एरिया’ घोषित कर दिया है। साथ हीं जिला कलेक्टर ने टिड्डी दल के अण्डे देने की आशंका को देखते हुए सभी सम्बन्धित विभाग को इससे निपटने के लिए समुचित रणनीति बनाने का आदेश दिया है।
जयपुर में 10 से लेकर 29 मई तक टिड्डी दलों पांच बार आक्रमण कर चुके हैं
जयपुर के जिला कलेक्टर डॉ. जोगाराम द्वारा टिड्डी दल के हमले, रोकथाम और आगे की रणनीति तैयार करने के लिए आधिकारियों के साथ संभावित खतरे की विस्तृत समीक्षा बैठक की गई। जिला कलेक्टर ने बताया कि जयपुर जिले में इस मौसम में 10 मई से लेकर 29 मई तक टिड्डी दल पांच बार आक्रमण कर चुके हैं। इससे निपटने में जिला प्रशासन एवं कृषि विभाग अब तक सफल रहे हैं। इस मुसीबत से निपटने के लिए कई किलोमीटर तक लंबे दलों को रात्रि में बैठने पर औसतन 60 से 80 प्रतिशत तक खत्म करने में सफलता प्राप्त किया जा चूका है।
बिजली आपूर्ति जारी रखना है ज़रुरी
इस आफत से निपटने के लिए जिला कलेक्टर ने जयपुर विद्युत किरण निगम को बिजली आपूर्ति पूरी तरह सुचारू रखने का निर्देश दिया है ताकि टिड्डी दल पर स्प्रे करने के लिए जल की कोई कमी न हो। जिला प्रशासन ने टिड्डी दल के सामने की आहट मिलते हैं शिर्ष से निचले स्तर तक टीम गठित कर इससे निपटने की योजनाओं पर कार्य करना शुरू कर दिया था। इसके अलावा जोबनेर कृषि महाविद्यालय और दुर्गापुरा कृषि अनुसंधान केन्द्रों के विशेषज्ञों के मास्टर्स ट्रेनर्स एवं मोटिवेटर्स की समिति भी गठित की गई है। पूरे जिले को ‘लोकस्ट इनवेजन एनडेंजर्ड एरिया’ भी घोषित किया जा चुका है।
Loading...