Thursday , October 29 2020
Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / भाप स्नान करने से रक्त का संचार रहता है पूरी तरह दुरुस्त

भाप स्नान करने से रक्त का संचार रहता है पूरी तरह दुरुस्त

अगर आपको पुरे दिनभर की भागदौड़ और थकान को दूर करना हैं तो कभी शाम को हल्का गर्म पानी करके स्नान करे ताकि आपकी थकावट पूरी तरह दूर हो सके। खूबसूरती बढ़ाने और बॉडी को पूरी तरह रिलैक्स करने में इसका बखूबी उपयोग होता है।

अगर किसी विशेष रोग में इसका प्रयोग कर रहे है तो विशेषज्ञ से सलाह बहुत आवश्यक आवश्यक है। इससे डिप्रेशन, मुंहासों, अनिद्रा, मोटापा, जोड़दर्द, बाल झडऩा, के अलावा तनाव घटकर रक्तसंचार पूरी तरह दुरुस्त होता है।

इसमें कई प्रकार की चमेली व लैवेंडर, जड़ी-बूटियां व गुलाव जैसी औषधियों के तेलों का बखूबी प्रयोग होता है। तेल को माथे पर धार बनाकर डालते हैं। नाक, हथेली-हाथों पर भी इसका बखूबी प्रयोग होता है जिससे थकान, सिरदर्द व तनाव दूर होता है। यह थैरेपी का उपयोग कर त्वचा को पूरी तरह मुलायम-चमकदार, मांसपेशियों को मजबूत और मेटाबॉलिज्म बनाया जा सकता है। स्क्रब के रूप में यह रक्तसंचार सुधारकर जोड़ों के दर्द व त्वचा रोगों में बहुत लाभ होता है।

भाप स्नान करने के लिए पानी को गर्म करके एक कमरे में भाप पैदा की जाती है। इसमें स्पा लेने वाले व्यक्ति को पूरी तरह बैठाते हैं लेकिन बॉडी मूवमेंट की मनाही होती है। इस 30-35 मिनट की प्रक्रिया में स्टीम बाथ से पहले यह अवश्य ध्यान रखें कि एक गिलास पानी पीएं। बाथ लेने के दौरान सिर पर या गले के पीछे गीला तौलिया रखें ताकि बेचैनी अधिक महसूस न हो।

Loading...