Home / भारत / मनी लॉन्ड्रिंग के केस पर शरद पवार बोले – जेल भेजने की योजना का स्वागत करता हूं

मनी लॉन्ड्रिंग के केस पर शरद पवार बोले – जेल भेजने की योजना का स्वागत करता हूं

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने महाराष्ट्र सहकारी बैंक घोटाला मामले में एनसीपी प्रमुख शरद पवार और उनके भतीजे अजीत पवार के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है। ईडी के इस कदम पर पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार ने तंज भरे लहजे में कहा, ”केस दर्ज कर लिया गया है। मैंने अभी तक जेल का अनुभव नहीं किया है, अगर मुझे जेल भेजने की योजना बनाई है, मैं स्वागत करता हूं। ”

उन्होंने कहा, “मुझे तब आश्चर्य होता जब राज्य के विभिन्न जिलों में अपनी यात्राओं के दौरान मुझे मिली प्रतिक्रिया के बाद भी मेरे खिलाफ ऐसी कार्रवाई न की जाती। ”

महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं। राज्य की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) द्वारा दर्ज शिकायत के आधार पर इस साल अगस्त में मुंबई पुलिस ने एक प्राथमिकी दर्ज की थी। मुंबई पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर ईडी ने धनशोधन के आरोप में आपराधिक आरोप लगाए हैं। पुलिस द्वारा दर्ज एफआईआर के मुताबिक, एक जनवरी 2007 से 31 मार्च 2017 के बीच हुए महाराष्ट्र राज्य सहकारी बैंक घोटाले के कारण सरकारी खजाने को कथित तौर पर 25 हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ।

Loading...