Home / लाइफस्टाइल / सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं सलाद, कीजिए सेवन

सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं सलाद, कीजिए सेवन

सेहत के लिए सलाद फायदेमंद होता है। इसलिए हर रोज सलाद का यूज करना चाहिए। महिलाओं को 25 ग्राम तथा पुरुषों को 38 ग्राम फाइबर की जरूरत रोजाना होती है। एक शोध के मुताबिक इंडियन औसतन 15 ग्राम फाइबर प्रतिदिन खाते हैं। सलाद फाइबर का बेहतरीन स्त्रोत है।

ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम रखने तथा पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने में मदद करता है। फाइबर युक्त भोजन दिल की बीमारियों और कैंसर से भी बचाता है। कच्ची सब्जियों से शरीर को जरूरी एंजाइम मिलते हैं जो शरीर को भोजन में से पोषक तत्वों को सोखने में मदद करते हैं।

शरीर जितने पोषक तत्वों को सोखेगा, उतना ही हम सेहतमंद रहेंगे। वेजिटेबल सलाद शरीर में रक्त की मात्रा बढ़ाता है और इससे शरीर को उचित मात्रा में विटामिन सी, ई, फॉलिक एसिड, लयकोपीन, अल्फा और बीटा केरोटीन देता है।

होगी कैलारी कम : अगर आप अपना वजन कम करना चाहती हैं तो सलाद खाएं। वजन कम करते वक्त हमेशा खाने की मात्रा को कम करने पर बल दिया जाता है, लेकिन सलाद के मामले में ये नियम बदल जाता है। यहां ‘बिगर इज बेटर’ का नियम लागू होता है।

अच्छी सेहत के लिए : कच्चे फलों तथा सब्जियों में काफी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। आधुनिक अनुसंधानों से पता चला है कि जो लोग फल, सब्जियां तथा अच्छी वसा खाते हैं, उनकी औसत आयु अधिक होती है ।
सलाद में सिर्फ टमाटर और खीरा ही नहीं होता। हजारों तरह की सामग्री का यूज कर सलाद बनाया जाता है। आप बरसों तक रोज अलग-अलग तरह का सलाद खा सकती हैं।

हरे सब्जियों का सलाद : हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे पालक, लेट्यूस या पत्ता गोभी, खीरा, ककड़ी तथा मिर्च आदि से बनता है।
वेजिटेबल सलाद : हरे रंग की सब्जियों के अलावा दूसरे रंगों की सब्जियां जैसे खीरा, मिर्च, टमाटर, मशरूम, प्याज, मूली, गाजर आदि से बनता है।

मेन कोर्स सलाद : इसे डिनर सलाद भी कहते हैं। इसमें ग्रिल्ड और फ्राइड चिकन और सी-फूड भी होते हैं
फ्रूट सलाद : फ्रूट सलाद विभिन्न फलों का मिश्रण होता है।

ध्यान रहे : फूड प्वॉइजनिंग से बचने के लिए सलाद को अच्छे तरीके से धोकर खाएं। लंच में या शाम के स्नैक्स के समय सलाद खाना अच्छा रहता है। रात के वक्त अधिक मात्रा में सलाद खाने से गैस की समस्या हो जाती है। अगर आप वजन कम करने के लिए सलाद खा रही हैं तो ज्यादा वसायुक्त सामग्री जैसे चीज आदि से ड्रेसिंग न करें। इससे कैलोरी की मात्रा बहुत बढ़ जाती है।

Loading...