Sunday , September 26 2021
Breaking News
Home / भारत / दिल्ली में रेकॉर्ड तोड़ बारिश से सड़क, हवाई यातायात हुआ प्रभावित

दिल्ली में रेकॉर्ड तोड़ बारिश से सड़क, हवाई यातायात हुआ प्रभावित

राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार को भारी से भारी बारिश हुई इस बारिश ने 46 वर्षों का रेकोर्ड तोड़ा है । भारी बारिश से शहर में कई सड़कों पर जलभराव हो गया जिससे यातायात बाधित हो गया वहीं हवाई अड्डे पर परिचालन प्रभावित हुआ। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अपडेट के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सुबह 5:30 बजे से शाम 5.30 बजे तक 121.1 मिमी बारिश दर्ज की गई।

इससे पहले राष्ट्रीय राजधानी में महीने की शुरुआत में लगातार दो दिनों में 100 मिमी से अधिक बारिश दर्ज की गई थी – जिसमें 1 सितंबर को 112.1 मिमी और 2 सितंबर को 117.7 मिमी। आईएमडी ने अपने दैनिक अपडेट में कहा कि सितंबर महीने में 77 वर्षों बाद शनिवार शाम तक 383.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग ने रविवार को मध्यम बारिश या गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना के साथ आसमान में आमतौर पर बादल छाए रहने की संभावना जताई है।

मिलीं जानकारी के अनुसार दिल्ली में बादल कुछ ऐसे बरसे की शहर में शनिवार शाम तक लोक निर्माण विभाग और नागरिक एजेंसियों को जलभराव की 380 शिकायतें मिलीं। वहीं शहर के नरेला इलाके में एक पुरानी इमारत गिर गई। हालांकि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ। भारी बारिश से दिल्ली हवाई अड्डे के प्रांगण में भी पानी भर गया जिसकी वजह से तीन उड़ानें रद्द कर दी गईं और पांच को जयपुर और अहमदाबाद की ओर मोड़ दिया गया। सोशल मीडिया पर तस्वीरों में पानी में डूबी कारों और लोगों को हवाईअड्डे के प्रवेश द्वार तक पहुंचने के लिए पानी के बीच से गुजरते हुए दिखाया गया है।

भारी बारिश से संज्ञान लेते हुए उड्ड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि उन्होंने हवाई अड्डे के अधिकारियों से बात की और “बताया गया कि 30 मिनट के भीतर जलभराव को साफ कर दिया गया”। वहीं दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) ने कहा कि फोरकोर्ट में जलभराव “थोड़ी अवधि के लिए” था और सुबह 9 बजे से परिचालन सामान्य हो गया है। दिल्ली हवाई अड्डे के अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली दमकल सेवा ने जलभराव के कारण हवाई अड्डे की ओर पालम फ्लाईओवर के एक अंडरपास पर फंसी एक बस से 40 यात्रियों को सुरक्षित बचा लिया।

वहीं बारिश की वजह से आईटीओ, रिंग रोड, मुकरबा चौक, आजादपुर, पुल प्रह्लादपुर और रोहतक रोड सहित व्यस्त सड़कों पर जलभराव के कारण भारी ट्रैफिक जाम हो गया। साथ-साथ शहर में पेड़ गिरने के करीब 10 मामले सामने आए हैं। आईएमडी ने कहा कि इस साल अत्यधिक असामान्य मानसून के मौसम में दिल्ली में अब तक 1,100 मिमी बारिश हुई है, जो 46 वर्षों में सबसे अधिक है।

– एजेंसी/न्यूज़ हेल्पलाइन

यह भी पढ़ें:

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की ‘मेडिसिन फ्रॉम द स्काई’ परियोजना की शुरुआत