Saturday , September 25 2021
Breaking News
Home / भारत / अब क्यों नहीं दिखते 2000 रुपये के नोट? RBI की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

अब क्यों नहीं दिखते 2000 रुपये के नोट? RBI की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

2000 के नोट आजकल आपको ज्यादा नहीं दिख रहे हैं तो इसके पीछे एक बड़ी वजह है, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 2000 रुपये के नोटों को सिस्टम से धीरे धीरे वापस लेना शुरू कर दिया है। नोटबंदी के ऐलान के बाद साल 2016 में 2000 रुपये का नोट लाया गया था, लेकिन बड़ी वैल्यू् का नोट होने की वजह से इसके फेक करेंसी मार्केट में आ जाने का खतरा भी ज्यादा हो जाता है।

RBI की वार्षिक रिपोर्ट को देखने से पता चलता है कि रिजर्व बैंक ने धीरे-धीरे 2000 के नोटों को सिस्टम से खींचना शुरू कर दिया है। वित्त वर्ष 2020-2021 के अंत में 2000 रुपये के 245 करोड़ नोट सर्कुलेशन में थे, जबकि इसके एक साल पहले तक इनकी संख्या 273.98 करोड़ थी। कीमत के रूप में देखें तो मार्च 2021 में 4.9 लाख करोड़ रुपये के 2000 के नोट सिस्टम में थे, जबकि मार्च 2020 में इसकी वैल्यू 5.48 लाख करोड़ रुपये थी। हालांकि एक बात साफ है कि रिजर्व बैंक ने 2 हजार के नोटों पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया है, न कोई रोक लगी है।

RBI की रिपोर्ट के मुताबिक मार्च 2018 में 2000 के सिस्टम में 336.3 करोड़ नोट मौजूद थे, लेकिन मार्च 31, 2021 में इनकी संख्या घटकर 245.1 करोड़ रह गई है। यानी इन तीन सालों में 91.2 करोड़ नोटों को सिस्टम से बाहर कर दिया गया है।

RBI की रिपोर्ट में बताया गया है कि पिछले साल की तरह वित्त वर्ष 2020-21 में भी 2,000 रुपए के एक भी नोट की सप्लाई नहीं हुई है. सरकार ने दो साल पहले से ही 2000 रुपये के नोटों की सप्लाई रोक दी है ।

यह भी पढ़ें:

कोरोना संकट में भी देश में आया रिकॉर्ड एफडीआई