Wednesday , October 24 2018
Breaking News
Home / खेल / क्रिकेट खिलाड़ियों के डोप टेस्ट को लेकर राज्यवर्धन राठौर का बड़ा बयान

क्रिकेट खिलाड़ियों के डोप टेस्ट को लेकर राज्यवर्धन राठौर का बड़ा बयान

केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने आज यह कहा कि अगर ICC विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी के अधीन है और वह अपने खिलाड़ियों की जांच उसके अंतर्गत कराती है, तो सरकार को कोई भी परेशानी नहीं है। आपको बता दे की राठौर का यह बयान वाडा के शनिवार को दिए गए बयान के ठीक बाद आया है।

वाडा ने अपने बयान में BCCI के उस दावे को पूरी तरह गलत बताया था, जिसमें यह कहा गया था कि राष्ट्रीय डोपिंग एजेंसी को बोर्ड के क्रिकेट खिलाड़ियों की डोप जांच कराने का कोई भी अधिकार नहीं है, क्योंकि BCCI राष्ट्रीय खेल महासंघ के अधीन नहीं आता और उसका मौजूदा एंटी डोपिंग तंत्र वाडा के नियमों के अंतर्गत ही काम करता है।

एयरटेल दिल्ली हाफ मैराथन के मौके पर खेमंत्री ने कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, “हमारे लिए तीन लोग बहुत ही अहम हैं-खिलाड़ी, कोच और प्रशंसक। जब डोपिंग होती है, तो प्रशंसकों के साथ बहुत धोखा होता है क्योंकि प्रशंसक खिलाड़ियों को अपने आदर्श की तरह मानते हैं। ”

राठौर ने कहा, “डोपिंग से प्रशंसकों के विश्वास के साथ बहुत धोखा होता है, इसलिए घर खेल संघ के लिए यह आवश्यक है कि वो इस बात को सुनिश्चित करे की खेल में कोई धोखाधड़ी न हो। ”

साल 2004 एथेंस ओलिम्पक में देश के लिए पदक जीतने वाले राठौड़ ने कहा कि अगर खिलाड़ियों की जांच वाडा करता है, तो मंत्रालय को किसी तरह की परेशानी नहीं है।

उन्होंने कहा, “जब ICC वाडा के अधीन है तो उसे उसके डोपिंग नियमों का पालन अवश्य करना चाहिए और यह वाडा पर निर्भर करता है कि वह इस बात को आश्वस्त करें कि क्रिकेट खिलाड़ियों का डोप टेस्ट हो. हमें इस बार से कोई शिकायत नहीं है। ”

आपको बता दे की वाडा के नियमों के मुताबिक खिलाड़ियों को हर साल की तिमाही में ICC को डोप टेस्ट के लिए अपनी जगह और समय बताना होगा और उन्हें हर दिन एक घंटे के लिए उपलब्ध रहना होगा।

हाफ मैराथन में जमकर दौड़ी दिल्ली

Loading...
Loading...