Saturday , September 25 2021
Breaking News
Home / भारत / पोलीगोन (Polygon) क्रिप्टोकरेंसी ने तीन भारतीय युवा को साधारण नौकरी करने वाले से अरबपति बना दिया

पोलीगोन (Polygon) क्रिप्टोकरेंसी ने तीन भारतीय युवा को साधारण नौकरी करने वाले से अरबपति बना दिया

तीन भारतीयों युवा द्वारा मिलकर बनाई गई ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी कंपनी पॉलीगॉन (Polygon) तेजी से लोकप्रिय हो रही है। पॉलीगॉन की लोकप्रियता सिर्फ भारत ही नहीं भारत के बाहर भी तेजी से बढ़ रही है।

जयंती कनानी, संदीप नैलवाल और अनुराग अर्जुन द्वारा मिलकर बनाई गई क्रिप्टोकरेंसी पॉलीगॉन (polygon) पिछले हफ्ते मार्केट कैप के लिहाज से 10 अरब डॉलर को पार कर गई है। इस समय इसका मार्केट केपिटलाइजेशन 13 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। मार्केट केपिटलाइजेशन के लिहाज से पॉलीगॉन ने दुनिया के शीर्ष 20 क्रिप्टोकरेंसी की सूची में अपनी जगह बना ली है। जयंती कनानी, संदीप नैलवाल और अनुराग अर्जुन अब साधारण नौकरी करते अरबपति बन गए हैं।

जयंती, संदीप और अनुराग यह तीनों ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म Polygon के सह संस्थापक हैं। पॉलीगॉन को पहले Matic के नाम से जाना जाता था। मैटिक की स्थापना साल 2017 में की गई थी। यह इथेरियम ब्लॉकचेन पर आधारित है। यह दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी इथेरियम (ethereum) पर भारी शुल्क और धीमी लेनदेन की समस्या को हल करने के लिए बनाया गया था। इसी साल मार्च में नैस्डेक (Nasdac) में लिस्टेड कॉइनबेस ने अपने यूजर को पॉलीगॉन कॉइन में ट्रेड करने की इजाजत दे दी थी।

इससे पहले अनुराग अर्जुन GST से जुड़ा स्टार्टअप लॉन्च कर चुके हैं। अनुराग ने अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल में लिखा है कि ब्लॉकचेन में दुनिया को बदलने की क्षमता है। आप इसे माने या ना माने यह सच है। इथेरियम और बिटकॉइन ने ब्लॉकचेन की महत्ता इस दुनिया के सामने साबित कर रख दी है । इनकी कंपनी ने की कंपनी कोविड -19 राहत के लिए अब तक $1 बिलियन से अधिक क्रिप्टो फंड जुटा चुकी है।

यह भी पढ़ें:

जान्हवी कपूर ने अपने हिडन टैलेंट को लोगों से किया शेयर