Saturday , September 25 2021
Breaking News
Home / भारत / 2022 से सभी सरकारी नौकरी के लिए सिर्फ एक सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित की जाएगी

2022 से सभी सरकारी नौकरी के लिए सिर्फ एक सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित की जाएगी

भारत सरकार साल 2022 से एक सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित करने जा रही है, जिसके माध्यम से केन्द्रीय सरकारी नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग और शॉर्टलिस्ट करने की प्रक्रिया सम्पन्न होगी। भारत सरकार के इस कदम से सरकारी जॉब के इच्छुक उम्मीदवारों के चयन में एकरूपता आएगी। केंद्र सरकार यह कार्य साल 2022 के शुरुआत से ही शुरू करने वाली है।

ज्ञात हो कि केंद्र सरकार विभिन्न विभागों के कार्यों में एकरूपता और पारदर्शिता लाने के लिए पुरजोर प्रयास कर रही है। इसी प्रयास के तहत आज इस सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) की घोषणा हुई है। केंद्रीय कार्मिक, पेंशन और शिकायत मंत्री जितेंद्र सिंह ने मंगलवार को इस बारे में घोषणा करते हुए कहा, “केंद्र सरकार की नौकरियों में भर्ती के लिए उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग और शॉर्टलिस्ट करने के लिए 2022 की शुरुआत से नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए एक सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी) आयोजित की जाएगी।”

जितेंद्र सिंह ने सीईटी की विशेषता बताते हुए कहा, “युवा नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों के लिए सीईटी भर्ती में आसानी लाएगा और दूरदराज के इलाकों में रहने वालों के लिए वरदान साबित होगा। एनआरए (नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी) एक बहु-एजेंसी निकाय होगा जो समूह-‘बी’ और ‘सी’ (गैर-तकनीकी) पदों के लिए उम्मीदवारों की स्क्रीनिंग और शॉर्टलिस्ट करने के लिए सामान्य परीक्षा आयोजित करेगा। इस सुधार की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता यह है कि देश के हर जिले में कम से कम एक परीक्षा केंद्र होगा जो दूर-दराज के क्षेत्रों में रहने वाले उम्मीदवारों की पहुंच को काफी बढ़ा देगा।”

ज्ञात हो कि केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित इस सामान्य पात्रता परीक्षा (सीईटी), पहले से चले आ रहे कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी), रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) और अन्य संस्थान के माध्यम से किया जाने वाले स्क्रीनिंग प्रक्रिया का स्थान लेगा।

यह भी पढ़ें: जानिए, सिबिल स्कोर और सिबिल रिपोर्ट में क्या अंतर होता है?