Home / भारत / एयर इंडिया के निजीकरण के अलावा कोई उपाय नहीं है: नागरिक उड्डयन मंत्री

एयर इंडिया के निजीकरण के अलावा कोई उपाय नहीं है: नागरिक उड्डयन मंत्री

एयर इंडिया पर बढ़ते कर्ज के कारण इसे नियमित चलने में परेशानी होने की बात सामने आ रही है। नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी का कहना है कि कुछ समय से एयर इंडिया का कर्ज बढ़ता जा रहा है, जिसे अब जारी नहीं रखा जा सकता है। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक एयर इंडिया के निजीकरण के अलावा कोई उपाय नहीं है।

हरदीप सिंह पुरी ने कहा – ‘एयरलाइनों से बातचीत के बाद बाजार बिगाड़ने वाली मूल्य नीति में कुछ कमी आई है, हम किराये को व्यवहारिक रखने का सुझाव देते हैं।”उन्होंने यह भी कहा कि एयरलाइन कंपनियों की खराब वित्तीय हालत के लिए केवल मूल्य स्पर्धा ही जिम्मेदार नहीं है. यह कई कारणों में से एक है।

एयर इंडिया पर इस समय करीब 60,000 करोड़ रुपये का कर्ज है।

यह भी पढ़ें: अब 130 रुपये में देख पाएंगे 200 फ्री टू एयर चैनल

Loading...