Breaking News
Home / भारत / नक्सलियों ने दिनदहाड़े बाज़ार में कि गोपनीय सैनिक की हत्या

नक्सलियों ने दिनदहाड़े बाज़ार में कि गोपनीय सैनिक की हत्या

देश में कोरोना के मामलों में कमी आते ही आतंकवादी और नक्सलवादी घटनाओं की ख़बर सामने आने लगी है। मंगलवार को छत्तीसगढ़ के जगदलपुर जिले के दरभा थाना इलाक़े के अंतर्गत पखनार बाजार में दिनदहाड़े नक्सलियों ने गोपनीय सैनिक बुधराम की धारदार हथियार से हत्या कर दी इस घटना से बाजार में भगदड़ जैसी स्तिथि बन गई। दरभा पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस विभाग में गोपनीय सैनिक के रूप में पदस्थ बुधराम मंगलवार को साप्ताहिक बाजार ख़रीद के लिए गया था। इसकी भनक लगते ही दोपहर करीब दो बजे आधा दर्जन नक्सली ग्रामीण वेशभूषा में वहां पहुंचे और धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दीं।

हमला इतना भयानक था कि बुधराम मौके पर ही शहीद हो गए घटना के बाद लोग इधर-उधर भागने लगे जिससे बाजार में भगदड़ सी मच गई। घटना की खबर लगते ही एसडीओपी केशलूर एश्वर्य चंद्राकर की अगुवाई में दरभा व कोड़ेनार से बल रवाना किया गया तब तक घटना को अंजाम देकर नक्सली भाग खड़े हुए।

जनकारी के अनुसार सुरक्षा बल नक्सलियों की तलाश कर रहे है बताया जा रहा हैं की घटना में कटेकल्याण एरिया कमेटी के नक्सलियों का हाथ है।

मिलीं जानकारी के अनुसार मृतक बुधराम दरभा जनपद के ग्राम कापानार का निवासी था वह खेतीबाड़ी कर वह जीवन यापन करता था। बताया जाता है की उसके गाँव में कुछ नक्सली छुपे थे और सुरक्षाकर्मी के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हुई थी। बुधराम को पुलिस की मुखबिरी के शक में उसे और उपसरपंच को नक्सली उठा के गए थे और तीन दिन तक उसको पेड़ से लटकाकर पिटाई की फिर उनसे फिरौती वसूल कर उन्हें छोड़ दिया गया और गाँव छोड़ने पर मजबूर कर दिया था । घटना के बाद बुधराम व उपसरपंच शहर आकर पुलिस में भर्ती हो गए उसे गोपनीय सैनिक मुख्यालय में रहना पड़ता था उसे हिदायत दो गई थी की बिना जानकारी वह कही नहीं जाए पर मंगलवार को वह बिना बताए बाज़ार चला गया और नक्सलियों ने घटना को अंजाम दे दिया। पुलिस कातिल नक्सलियों की खोजबीन कर रही है।

यह भी पढ़े-

सबसे कम समय में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली त्यांस यिन हंग नेपाल में फंसी, घर जाने के लिए कर रही जद्दोजहद