Home / लेटेस्ट न्यूज़ / नरेश गोयल ने लगाई जेट के लिए बोली

नरेश गोयल ने लगाई जेट के लिए बोली

जेट एयरवेज के प्लेन जमीन पर खड़े हैं। अमेरिका के डेलावेयर की कंपनी फ्यूचर ट्रेंड कैपिटल जेट एयरवेज में निवेश के लिए नरेश गोयल की जेट एयर ग्रुप की मदद कर रही है।फ्यूचर-जेटएयर की बोली पिछले शुक्रवार को शाम 6.08 बजे मिली थी, जबकि इसकी डेडलाइन शाम 6 बजे की थी। गोयल के बोली लगाने में देरी के बारे में पूछे गए सवालों का जेटएयर के प्रवक्ता ने फिलहाल कोई जवाब नहीं दिया है ।

जेट एयरवेज में हिस्सेदारी लेने के लिए फ्यूचर ट्रेंड को फंड की कमी नहीं होगी। बोली की शर्तों के मुताबिक, निवेशक की नेटवर्थ 1,000 करोड़ रुपये होनी चाहिए और उसके पास जेट में लगाने के लिए और हजार करोड़ रुपये हों। लंदन की कंपनी Adi पार्टनर्स भी जेटएयर और फ्यूचर ट्रेंड के ग्रुप के साथ जुड़ी हुई है। एतिहाद एयरवेज, नैशनल इंफ्रास्ट्रक्चर ऐंड इनवेस्टमेंट फंड (एनआईआईएफ) और टीपीजी कैपिटल या इंडिगो पार्टनर्स जैसे प्राइवेट इक्विटी फंड अगर निवेश करें और कंपनी के बढ़े हुए इक्विटी पूल में तीनों में से हरेक 24 पर्सेंट या उससे कम स्टेक लें तो ओपन ऑफर नहीं लाना पड़ेगा। एतिहाद जेट एयरवेज में अपनी हिस्सेदारी 24 पर्सेंट से अधिक नहीं बढ़ाना चाहती।’ एतिहाद संयुक्त अरब अमीरात के पास जेट एयरवेज के 24 पर्सेंट शेयर हैं।

जेट के पूर्व वाइस प्रेजिडेंट और इंडिपेंडेंट एविएशन मैनेजमेंट प्रफेशनल मनीष रनिगा ने बताया, ‘बैंक अगर अंतरिम फंडिंग दें तो जेट एयरवेज को बचाया जा सकता है।

जेट के सीईओ विनय दूबे ने बैंकों से 1,000 करोड़ की अंतरिम फंडिंग मांगी है। कंपनी अभी सिर्फ 6 एटीआर टर्बोप्रॉप प्लेन और एक बोइंग 737 से डोमेस्टिक रूट्स पर उड़ान भर रही है।

Loading...
Loading...