Home / भारत / मुंबई की ओर बढ़ रहा है तूफान निसर्ग, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रख रहे हैं नजर

मुंबई की ओर बढ़ रहा है तूफान निसर्ग, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रख रहे हैं नजर

इतिहास में पहली बार मुंबई का किसी बड़े चक्रवात से सामना होने वाला है। अरब सागर से निकलने वाला यह चक्रवात निसर्ग 3 जून को मुंबई से उत्तर दिशा में 100 किलोमीटर की दूरी पर टकराएगा। इस चक्रवात के सबसे अधिक प्रभाव की आशंका गुजरात और महाराष्ट्र में जताई जा रही है। इसकी गंभीरता क्या अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इस तूफान के कारण होने वाले घटनाक्रमों की निगरानी खुद प्रधानमंत्री मोदी कर रहे हैं। अपने एक ट्वीट के जरिए प्रधानमंत्री मोदी ने बताया कि उन्होंने देश के पश्चिमी तटीय क्षेत्रों में तूफान को लेकर बने हालात के बारे में जानकारी ली है और लोगों की सलामती की दुआ भी की है साथ ही उन्होंने लोगों से हर मुमकिन एहतियातन सुरक्षा के कदम उठाने की अपील भी की है।

बता दें कि मौसम विभाग ने रविवार को चक्रवात की आशंका को देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया था जिसे बाद में उसे अपग्रेड करते हुए रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है। इसके पहले बंगाल की खाड़ी से उठा अम्फान तूफान पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचा चुका है इसलिए पिछले दो सप्ताह में आने वाले इस दूसरे चक्रवात के लिए प्रशासन हर तरफ से तैयारी करने में जुटी है।

गौरतलब है कि अरब सागर में उठे इस चक्रवात निसर्ग से महाराष्ट्र के मेट्रोपोलिटन क्षेत्रों के अलावा तटीय इलाकों में बाढ़ जैसी तबाही मचाने की आशंका है। हालांकि निसर्ग बंगाल की खाड़ी में उठे हम अम्फान तूफान से कम शक्तिशाली आंका जा रहा है। यह अभी पूर्ण रूप से चक्रवात भी नहीं बन पाया है। यह सिर्फ समुद्र में दबाव के कारण में डिप्रेशन में तब्दील होकर चक्रवात बनेगा और फिर इसे निसर्ग कहा जाएगा। मौसम विभाग की मानें तो निसर्ग तूफान में हवा की गति 95 से 105 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है, जबकि हम अम्फान की रफ्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटे थी।
Loading...