Thursday , October 29 2020
Breaking News
Home / भारत / नजर आया चन्द्रग्रहण, लोग बने साक्षी, ये रही खास बात

नजर आया चन्द्रग्रहण, लोग बने साक्षी, ये रही खास बात

नई दिल्ली। बुधवार को देशभर में चन्द्रग्रहण नजर आया, इसके लोग साक्षी बने। यह वर्ष का पहला चंद्रग्रहण था।इंडिया के साथ-साथ कई अन्य देशों में देखा गया और यहां के बाशिंदे दुर्लभ खगोलीय घटना के साक्षी बने। इंडिया के अलावा उत्तरी अमेरिका, हवाई, पश्चिम एशिया, रूस और ऑस्ट्रेलिया में भी यह ग्रहण नजर आया।

इस घटना में सुपरमून और ब्लू मून के साथ पूर्ण चंद्र ग्रहण भी देखा गया। कहीं पर ये शाम करीब 4.22 बजे से तो कहीं पर यह 5.01 मिनट पर दिखा। गुवाहाटी में सह शाम 5.01 मिनट, पटना में 5.28 मिनट पर, दिल्ली में 5.57 मिनट पर और मुंबई में यह 6.29 मिनट पर देखा गया। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक बुधवार का चंद्रग्रहण 100 से भी अधिक सालों के बाद पड़ा और यह इस साल का पहला चंद्रग्रहण था।

आॅटो एक्सपो में लॉन्च होगी यामाहा की ये बाइक, जानिए

तीन घंटे 24 मिनट की अवधि वाले चंद्रगहण के दौरान चंद्रमा का 3 विविध रंगो में नजर आना इसकी प्रमुख विशेषता रही। वैज्ञानिकों के अनुसार चंद्रग्रहण के दौरान चंद्रमा के सुर्ख लाल हो जाने की प्रक्रिया को ही ब्लड मून नाम दिया गया।

उनका कहना है कि जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच सीधे गुजरती है और इस दौरान चंद्रमा पृथ्वी के घेरे में आ जाने से कुछ ऐसा ही दिखता है जैसे इसे किसी छतरी से ढक दिया गया हो। ऐसे वक्त हालांकि सूर्य की हल्की रोशनी का प्रतिबिम्ब चंद्रमा पर पड़ता है, जिसकी वजह से ये लाल रंग का नजर आता है।

बढ़ सकती है कर मुक्त आय की सीमा, हो सकता है ये बदलाव!

रामजन्मभूमि में प्रतिष्ठापित रामलला के साथ ही यूपी के मंदिरों में दर्शन पूजन नहीं कर सके। रामलला का दर्शन दो पारियों सुबह सात से ग्यारह बजे तक और दोपहर बाद एक से पांच बजे तक होता है।

विवादित धर्मस्थल और उसके आसपास अधिग्रहीत परिसर के पदेन प्रभारी तथा फैजाबाद के मण्डलायुक्त मनोज मिश्र ने बताया कि सुबह पुजारी ने रामलला की पूजा अर्चना की। उसके बाद दर्शन बंद कर दिया गया। दर्शन का सिलसिला आज सुबह सात बजे फिर शुरु हो गया।

Loading...