Breaking News
Home / लाइफस्टाइल / जानिए, किन लोगों को बिलकुल भी नहीं करना चाहिए अश्वगंधा का सेवन

जानिए, किन लोगों को बिलकुल भी नहीं करना चाहिए अश्वगंधा का सेवन

अश्वगंधा को अंग्रेजी में Withania somnifera कहा जाता है। यह एक झाड़ीदार पौधा होता है। इसके सेवन से बहुत सी रोगो को दूर किया जा सकता है। इसका महत्व आयुर्वेद में बहुत माना जाता है। अश्वगंधा जड़ी बूटी शरीर के लिए अत्यंत फायदेमंद होती है और इसके कई नुकसान भी है।

अश्वगंधा का मतलब होता है घोड़े की गंध। इसके इस्तेमाल से थायरायड, त्वचा संबंधी रोग, शरीर की दुर्बलता आदि से जल्द छुटकारा पाया जा सकता है। शरीर के लिए अश्वगंधा बहुत लाभदायक होता है। अश्वगंधा के फायदों के बारे में तो बहुत से लोग जानते है। आज हम आपको बताएंगे अश्वगंधा के नुकसान के बारे में –

अधिक नींद आना

अश्वगंधा के इस्तेमाल से ज्यादा नींद आने लगती है। लेकिन इस जड़ी बूटी का अधिक सेवन करने से नींद उड़ जाती है इसलिए हमे इसके प्रयोग रात्रि में सोने से पहले करना चाहिए ।

दवाओं का असर करे बंद

अश्वगंधा के सेवन के बाद बाकी किसी दवाइयों का शरीर में कोई फायदा नहीं पहुंचता। अश्वगंधा लेते समय आपको दवाइयां डॉक्टर से पूछ कर लेनी चाहिए।

पेट से जुड़े रोग

अगर आप अश्वगंधा की पत्तियों का अधिक इस्तेमाल कर रहे है तो आप को पेट संबंधी समस्याएं हो सकती है। इसकी पत्तियों के प्रयोग से पेट सम्बन्धी परेशानियां जैसे गैस, उल्टियां और दस्त आदि हो जाते है। इसके अलावा कई बार लोगों को अल्सर की प्रॉब्लम भी हो जाती है।

शारीरिक तापमान बढ़ाए

अश्वगंधा के इस्तेमाल से बहुत से लोगों को बुखार होने लगता है क्यूंकि यह शारीरिक तापमान को बढ़ा देती है।इसका सेवन कम मात्रा में ही करना चाहिए। इसके बहुत से नुकसान होते है। अगर आपको लगे कि आपको बुखार हो गया है तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

बॉडी में करे उल्टे रिएक्शन

अश्वगंधा का इस्तेमाल सुजन को कम करने, गठिया के रोग को दूर करने, आर्थराइटिस आदि की समस्याओं के लिए नहीं करना चाहिए। इसके सेवन से प्रतिरोधक ज्यादा हो जाती है जिसके वजह से शरीर में विपरीत कार्य होने लगते है।

प्रेगनेंसी में नुकसानदायक

प्रेग्नेंट महिलाओं को अश्वगंधा का इस्तेमाल बिलकुल नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके सेवन से गर्भ गिराने के गुण पाए जाते हैं।

यह भी पढ़ें-

जानिये कैसे मददगार है अदरक कई गंभीर बिमारियों को दूर करने में