Home / लाइफस्टाइल / कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हाथ धोते समय इन चार बातों का जरूर रखें ध्यान

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हाथ धोते समय इन चार बातों का जरूर रखें ध्यान

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए हाथ धोते रहना काफी फायदेमंद बताया जा रहा है। संकट के इस दौर में हाथ धोने की यह आदत लोगों के लिए संजीवनी का काम कर रही है। भले ही हाथ धोने से संक्रमण का खतरा कम हो जाता हो लेकिन बार-बार हाथ धोने से कई तरह की परेशानियां भी सामने आ सकती है। त्वचा रोग विशेषज्ञों का मानना है कि लगातार साबुन अथवा सैनिटाइजर से रगड़ने से हाथों की नमी कम होने लगती है। रूखी त्वचा होने से यह फटने लगती है और इसकी वजह से फटी दरारों में वायरस आसानी से प्रवेश कर सकता है। ऐसी स्तिथि उत्पन्न नहीं होने देने के लिए हमें इन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

हाथ धोने या सैनिटाइजर लगाने के बाद क्रीम या वैसलीन का इस्तेमाल करें, जिससे रूखापन खत्म हो जाए और उसकी कोमलता बनी रहे।

खुशबूदार साबुन के प्रयोग से झाग की मोटी परत बनती है जो हाथों को रगड़ने पर हाथों में मौजूद प्राकृतिक तेल को धो देती है। इससे नेचुरल सुंदरता खत्म हो सकती है। इसलिए खुशबूदार साबुन का प्रयोग काफी कम करना चाहिए।

हाथों को 20 सेकंड तक हल्के गुनगुने पानी से धोना चाहिए नाकि गर्म पानी से। हाथ धोने के बाद इन्हें तौलिये के भीतर रख लेवें लेकिन रगड़े नहीं। हाथ सूख जाने पर मॉइस्चराइजर क्रीम का इस्तेमाल करें। ऐसा करने से आपके हाथों की त्वचा नरम और स्वस्थ रहेगी।

हाथों की स्किन फटी होने की स्तिथि में अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर का प्रयोग नुकसान कर सकता है। हालांकि आप चाहे तो हैंड सैनिटाइजर और मॉइस्चराइजिंग क्रीम का प्रयोग मिलाकर कर सकते हैं। लेकिन इस तरीके से वायरस के खत्म होने के चांस ना के बराबर है।

यह भी पढ़े: सिर्फ 20 मिनट में कोरोना वायरस टेस्ट के नतीजे देने वाली टेस्ट किट तैयार
यह भी पढ़े: VMate और जस्ट म्यूज़िक ने नए संगीत वीडियो ‘वजह’ के प्रचार के लिए की साझेदारी

Loading...