Breaking News
Home / मनोरंजन / कलंक की कहानी में हैं काफी कमी , वरुण आलिया का अभिनय दमदार

कलंक की कहानी में हैं काफी कमी , वरुण आलिया का अभिनय दमदार

कलंक हुसैनाबाद नाम के एक काल्पनिक शहर की कहानी है। धर्मा प्रोडक्शन की यह फिल्म 1940 के दशक की दास्तां बयां करती है। फिल्म की कहानी आजादी से कुछ वक्त पहले की है। बलराज चौधरी का किरदार निभा रहे संजय दत्त अपने महल में बेटे आदित्य रॉय कपूर यानि देव और बहू सोनाक्षी सिन्हा संग रहते हैं। कैंसर से पीड़ित साथ्या नहीं चाहती हैं कि उनकी मौत के बाद उनके पति अकेले रहें इसलिए वह देव की रूप से शादी करवाना चाहती है।

रूप अपनी बहनों का भविष्य बचाने के लिए देव चौधरी से शादी करने के लिए राजी भी हो जाती हैं। परिवार के अंदर एक कैदभरी जिंदगी जी रहीं रूप एक रोज सारी हदें पार कर हीरामंडी में बहार बेगम यानि माधुरी दीक्षित के पास पहुंच जाती हैं जहाँ उनकी मुलाकात वरुण धवन यानि जफर से होती है। फिल्म का लेखन काफी कच्चा है। कलंक का निर्देशन ऐसा है कि आप टिकट खरीदने को अपनी गलती समझते हैं।

फिल्म के गाने शानदार हैं और गानों का फिल्मांकन भी शानदार है। अभिनय के मामले में फिल्म कच्ची नहीं लगती है, लेकिन इसकी स्क्रिप्ट दमदार नहीं है।

Loading...
Loading...