Breaking News
Home / भारत / कपास एक्सपोर्ट में भारत को चीन से मिला दोगुना कांट्रैक्ट

कपास एक्सपोर्ट में भारत को चीन से मिला दोगुना कांट्रैक्ट

भारत ने सितम्बर में विभिन्न देशों को तकरीबन 14-16 लाख गांठ रूई निर्यात करने के सौदे (कांट्रैक्ट) किए हैं, जबकि पिछले साल सितम्बर में लगभग मात्र 7 लाख गांठ के सौदे हुए थे। आपको बता दे की एक गांठ में गभग 170 किलोग्राम कपास होती है।

काटन एसोसिएशन आफ इंडिया (CAI) के प्रधान अतुल गनात्रा के मुताबिक व्यापारियों ने जो निर्यात रूई गांठों के सौदे किए हैं, उनमें से लगभग 75 प्रतिशत कांट्रैक्ट (सौदे) चीन के साथ किए गए हैं। चालू कपास सत्र वर्ष 2017-18 के दौरान भारत रूई के बहुत अधिक फारवर्ड सौदे साइन नहीं कर सका था क्योंकि इसकी सप्लाई कम थी।

उन्होंने कहा कि अमरीका से रूई आयात (इम्पोर्ट) पर चीन की तरफ से तकरीबन 25 प्रतिशत ड्यूटी लगा दी गई है जिससे भारत की रूई चीन के खरीदार के लिए और सस्ती बनेगी। इस वर्ष चीन को रूई का कुल निर्यात लगभग 30-40 लाख गांठ हो सकता है, जबकि कपास सत्र 2017-18 में मात्र 8-9 लाख गांठ का निर्यात हुआ था।

Loading...
Loading...