Home / लाइफस्टाइल / अगर आप लगातर बुखार आने से है परेशान तो अपनाये ये आसान उपाय

अगर आप लगातर बुखार आने से है परेशान तो अपनाये ये आसान उपाय

बुखार कभी भी शरीर को पकड़ लेता हैं ऐसे में हम सबसे पहले ठन्डे पानी की पट्टियां ही सिर पर लगाते हैं यह सलाह ना केवल माँ बाप देते हैं बल्कि डॉक्टर भी इस बात की सलाह अवश्य देता हैं| बुखार में पट्टियों का काम- जब बुखार 101 डिग्री फैरेनहाइट से ज्यादा होता है तो हालत गंभीर हो जाती है और उसके बाद इसके 103 डिग्री फैरेनहाइट तक पहुंचने पर बहुत ज्यादा घबराहट होती है। ऐसे में डॉक्टर बुखार के लिए दवाएं तो देते हैं लेकिन कई बार दवाएं खाने के बावजूद शरीर का तापमान सामान्य नहीं होता है। ऐसे में ठंडे पानी की पट्टियों या स्पंज को माथे पर रखने से बुखार को कम करने की कोशिश की जाती है।

अगर आप है पसीने की बदबु से परेशान, तो अपनाये ये आसान घरेलु उपाय

माना जाता है कि अगर बुखार 102 डिग्री फैरेनहाइट से ज्यादा हो जाए तो उसे नियंत्रित करना बहुत ज़रूरी हो जाता है , अगर ऐसा नहीं किया तो इससे दौरा भी पड़ सकता है। ठंडे पानी की पट्टियां या स्पंज करने से तापमान कम करके मरीज़ को राहत दिलाई जा सकती है। मज़ेदार वीडियो छोटे बच्चों और बुज़ुर्गों के साथ ये तरीका अपनाया जा सकता है क्योंकि उन्हें बुखार बहुत तेज होने पर दौरा पडऩे का आशंका अधिक रहता है। बर्फ या बर्फ के पानी का उपयोग नहीं करें- पट्टी करने के लिये बर्फ के पानी का उपयोग नहीं करना चाहिये। इसके लिये हमेशा ताज़ा पानी ही काम में लेना चाहिए। कब करना चाहिए बर्फ के पानी का उपयोग- बर्फ के पानी का उपयोग केवल तभी करना चाहिए जब बुखार 104 से105 डिग्री फैरेनहाइट तक हो गया हो। ध्यान रहे कि स्पंजिंग बुखार के लिए स्थायी उपचार नहीं है बल्कि तापमान को सामान्य करने का तरीका है।

आपके चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने में बहुत मददगार होता है अंडा

Loading...
Loading...