Home / लाइफस्टाइल / आईए जाने यादाश्त कमजोर होने के कारण और उसके उपाय

आईए जाने यादाश्त कमजोर होने के कारण और उसके उपाय

भाग दौड़ भरी लाइफ स्टाइल से लोगों की याददाश्त पर काफी असर पड़ रहा है। जल्दबाजी में हम काफी अहम चीजों को कमजोर याददाश्त की वजह से भूल जाते हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक एक अच्छी नींद ही तेज दिमाग की चाबी है। उनका कहना है कि अच्छी नींद लेने के बाद हम उन तथ्यों को याद रख सकते है जो हम कभी-कभार जागते हुए भी याद नहीं रख पाते हैं। नींद के कारण न सिर्फ हम अपनी याददाश्त को सुरक्षित रख पाते हैं, बल्कि इसे आसानी से दोहराया भी जा सकता है। हम भाग-दौड़ में काफी अहम चीजों को कमजोर याददाश्त के कारण भूल जाते हैं।

शोधकर्ताओं के मुताबिक एक अच्छी नींद ही तेज दिमाग की चाबी है। नींद के कारण हम अपने दिमाग में छिपी कई चीजों को याद कर सकते हैं, अच्छी नींद की वजह से याददाश्त को बरकरार रखने ऊर्जा मिलती है, उससे ये संकेत मिलते हैं कि कुछ बातें सारी रात नींद के दौरान और भी तेज याद रहती है। यह इस धारणा का समर्थन करता है कि सोते हुए हम महत्वपूर्ण जानकारियों का अभ्यास करते हैं।

जहां एक स्थिति में लोग 12 घंटे तक जागने की वजह से कुछ जानकारियों को भूल जाते हैं, वहीं दूसरी स्थिति में रातभर की नींद से हम उन जानकारियों को आसानी से याद कर पाते हैं, जिन्हें शुरुआती तौर में जागते हुए याद करने में एक हफ्ते का समय लगता है।

डॉक्टरों के मुताबिक मस्तिष्क में टेम्पोरल लोब की एक आंतरिक संरचना हिप्पोकैम्पस के ही वजह से याददाश्त को बनाए रखने में ओर बढ़ावा मिलता है, यह इंसान के मस्तिष्क में दबी हुई बातों को बाहर निकालता है और उन्हें मूल रूप से दिमाग के उसी छिपे हुए स्थान पर फिर से रीप्ले करता है