Thursday , October 28 2021
Home / भारत / बुलेट ट्रेन : वापी -सूरत -अहमदाबाद के बीच पांच हाई स्पीड रेल ब्रिज बनाने के लिए हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन ने किया एमओयू हस्ताक्षर

बुलेट ट्रेन : वापी -सूरत -अहमदाबाद के बीच पांच हाई स्पीड रेल ब्रिज बनाने के लिए हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन ने किया एमओयू हस्ताक्षर

शुक्रवार को नेशनल हाई-स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एनएचएसआरसीएल) ने वापी -सूरत – अहमदाबाद के बीच हाई स्पीड रेल पॅकेज 1(बी) और 1(सी)  के तहत 5 प्री-स्ट्रेस्ड कंक्रीट पुलों और 11 स्टील पुलों के निर्माण के लिए कॉन्ट्रैक्ट कंपनी  मैसर्स एम. जी. कॉन्ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड के साथ दो अनुबंधों पर हस्ताक्षर किया ।इस दौरान एनएचएसआरसीएल के परियोजना निदेशक राजेंद्र प्रसाद ,निदेशक (प्रणाली )संदीप कुमार ,निदेशक (वित्त ) ए. के. बिजलवान ,निदेशक (रोलिंग स्टॉक )विजय कुमार तथा मैसर्स एम. जी. कॉन्ट्रैक्टर्स प्राइवेट लिमिटेड के अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

इन विशेष पुलों को विशेष स्थानों के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिसमें एमएएचएसआर वायाडक्ट का निर्माण रेलवे और डीएफसीसी ट्रैक, राज्य राजमार्ग, एक्सप्रेसवे व राष्ट्रीय राजमार्गों आदि पर किया जा रहा है।जबकि पीएससी पुलों का निर्माण संतुलित ब्रैकट प्रक्रिया का इस्तेमाल करके किया जाएगा जिसके निर्माण एवं स्थापना के दौरान अत्यधिक सटीकता की जरुरत होती है। इन पुलों की चौड़ाई 60 मीटर तक है और यह 100 मीटर से अधिक भी हो सकती है और इनका वजन कई सौ टन हो सकता है। हालांकि, कार्यशाला में अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों की देखरेख में स्टील पुलों का निर्माण किया जाएगा और इन्हें विशेष मशीनों और क्रेन द्वारा साइट पर स्थापित किया जाएगा।

एनएचएसआरसीएल अधिकारीयों ने बताया कि यह सभी 11 ब्रिज एलएंडटी द्वारा पॅकेज -सी 4 के तहत बनाए जा रहे 237 किमी  कॉरिडोर में शामिल है। यह कॉरिडोर जारोली गाँव से वडोदरा के बीच तैयार किया जा रहा है। 508 किमी बुलेट परियोजना में यह पॅकेज सी 4 सबसे लंबा रूट है। इस 237 किमी रुट में वापी ,बिलिमोरा ,सूरत और भरुच हाई स्पीड रेल स्टेशन भी बनाए जाने है।

यह भी पढ़े- पुलिस ने असम के कोकराझारी में नए आतंकी समूह यूएलबी के शिविर का किया भंडाफोड़