Thursday , October 28 2021
Home / लेटेस्ट न्यूज़ / 20 साल पुराने युद्ध को समाप्त कर अमेरिका ने काबुल से भरी अपनी अंतिम उड़ान

20 साल पुराने युद्ध को समाप्त कर अमेरिका ने काबुल से भरी अपनी अंतिम उड़ान

संयुक्त राज्य अमेरिका ने अफगानिस्तान में अपने 20 साल पुराने युद्ध की समाप्ति की घोषणा की है क्योंकि आखिरी अमेरिकी सैन्य उड़ान 31 अगस्त की समय सीमा से कुछ समय पहले काबुल में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भर चुका है। अमेरिकी प्रयास के तहत पिछले दो हफ्तों में काबुल हवाई अड्डे से 114,000 से अधिक लोगों को एयरलिफ्ट किया जा चुका है।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने सशस्त्र बलों को अफगानिस्तान से खतरनाक परिस्थिति के बावजूद समय सीमा से पहले अपने मिशन को पूरा करने के लिए धन्यवाद देते हुए कहा है, “अब, अफगानिस्तान में हमारी 20 साल की सैन्य उपस्थिति समाप्त हो गई है।”

इस पर प्रतिक्रिया करते हुए, तालिबान लड़ाकों ने 20 साल की अमेरिकी सैन्य उपस्थिति के बाद अपनी जीत और स्वतंत्रता का जश्न मनाते हुए आकाश में बंदूकें चलाईं हैं। साथ ही काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर तैनात तालिबानी लड़ाके हेमाद शेरजाद ने कहा, “मैं अपनी खुशी शब्दों में बयां नहीं कर सकता, हमारे 20 साल के बलिदान ने काम किया है।”

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि इतिहास में कभी भी युद्ध से वापसी को इतनी बुरी तरह या अक्षमता से नहीं किया गया जितना कि अफगानिस्तान से अमेरिकियों द्वारा किया गया है।

इस बीच, भारत की अध्यक्षता में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने एक प्रस्ताव पारित कर मांग की कि अफगानिस्तान के क्षेत्र का इस्तेमाल किसी देश को धमकाने या हमला करने या आतंकवादियों को शरण देने और प्रशिक्षित करने के लिए नहीं किया जाना चाहिए।

एक अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि सोमवार को, अमेरिकी मिसाइल रोधी रक्षा ने काबुल के हवाई अड्डे पर दागे गए पांच रॉकेटों को रोक दिया। रॉयटर्स के अनुसार, स्थानीय मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि आज का रॉकेट हमला एक वाहन के पीछे से किया गया था। बाद में शाम को, इस्लामिक स्टेट ने हमले की जिम्मेदारी ली।

– एजेंसी/न्यूज़ हेल्पलाइन

यह भी पढ़ें:

लाल चौक पर जन्माष्टमी की झांकी: कई सालों के बाद देखने को मिला यह नजारा