Thursday , October 28 2021
Home / भारत / Air India के बाद अब ये दो सरकारी कंपनियां भी बन जाएंगी प्राइवेट, मिल रहे सरकारी संकेत
privatization

Air India के बाद अब ये दो सरकारी कंपनियां भी बन जाएंगी प्राइवेट, मिल रहे सरकारी संकेत

एयर इंडिया (Air India) का मालिकाना हक टाटा सन्स (Tata Sons) ने हासिल कर लिया हैं। जिसके बाद आलोचक मोदी सरकार को घेरने में लगे हुए हैं। आलोचकों का कहना हैं कि वो प्रधानमंत्री मोदी जी की निजीकरण (privatization) नीति के खिलाफ हैं। इससे देश में एक बड़ा सनकत खड़ा हो सकता हैं। बता दे मोदी सरकार द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को निजी हाथों में सौंपने का अभियान अब गति पकड़ने लगा हैं। जिस लिस्ट में Air India का नाम आ चुका हैं।

संयुक्त राष्ट्र में फिर लगाई भारत ने पाक को फटकार, कहा-आपके PM लादेन को शहीद बताते हैं

केंद्र सरकार का कहना है कि दिसंबर तक और दो सरकारी कंपनियों के प्राइवेट बन जाने की संभावना हैं। जिसमें नीलाचल इस्पात और सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स का नाम शामिल है। सरकार ने संभावना व्यक्त की हैं कि इन दोनों कंपनियों से जुड़े लेनदेन दिसंबर तक पूरे हो जाएंगे।

कहा जा रहा है कि सरकार जिन अन्य पीएसयू का प्राइवेटाइजेशन करना चाहती है, उनमें शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया और पवन हंस का नाम भी शामिल हैं। साथ ही सरकार LIC की शेयर बाजार पर मेगा लिस्टिंग के साथ-साथ मार्च तिमाही में बीपीसीएल और बीईएमएल के निजीकरण पर काम कर रही हैं।

अन्य खस्ताहाल पीएसयू के लिए एयर इंडिया बिक्री ने खोले रास्ते

हाल ही में एयर इंडिया की बिक्री के लिए बोली टाटा सन्स द्वारा जीते जाने के बाद उम्मीद हैं कि अब अन्य खस्ताहाल सरकारी कंपनियों के निजीकरण की राह आसान हो जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दे टाटा सन्स की इकाई ने 18000 करोड़ रुपये में एयर इंडिया के लिए बोली जीती है।

शोभिता धुलिपाला ने जाह्नवी कपूर से उधार मांगी रंग-बिरंगी पैंट, मिला यह खूबसूरत जवाब