Saturday , September 19 2020
Home / भारत / ईएमआई चुकाने के लिए तीन महीने की अतिरिक्त मोहलत दी गई, रेपो रेट में भी हुई कटौती

ईएमआई चुकाने के लिए तीन महीने की अतिरिक्त मोहलत दी गई, रेपो रेट में भी हुई कटौती

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ग्राहकों के लिए बड़ी राहत दी है। केंद्रीय बैंक ने रेपो रेट में कटौती कर लोगों के लोन की ब्याज दरें कम कम करने का एलान किया है। साथ ही टर्म लोन मोरेटोरियम 31 अगस्त तक बढ़ा दिया है। इससे पहले मोरेटोरियम की सुविधा तीन महीने दी थी, जिसे बढ़ाकर छह महीने कर दिया गया है। अब 6 महीने तक ईएमआई नहीं चुकाने पर लोन डिफॉल्ट या एनपीए कैटेगरी में नहीं माना जाएगा।

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया कि पहले एमपीसी की बैठक तीन से पांच जून को होनी थी। लेकिन इसे 20 से 22 मई के दौरान ही कर लिया गया। इस बैठक में अधिकतर सदस्य रेपो रेट घटाने के पक्ष में दिखाई दिए। जिसके बाद रेपो रेट में 40 आधार अंकों की कटौती की गई है और यह 4.40 फीसदी से कम होकर चार फीसदी रह गई है। बैठक के दौरान एमपीसी के 6 में से 5 सदस्यों ने रेपो रेट घटाने के पक्ष में वोटिंग की है।

बैठक में रिवर्स रेपो रेट 3.75 फीसदी से कम होकर 3.35 फीसदी करने का निश्चय किया गया है। शक्तिकांत दास ने बताया कि छमाही में महंगाई उच्च स्तर पर होगी। लॉकडाउन से बिगड़ी अर्थव्यवस्था का असर छह बड़े औद्योगिक राज्य में रेड जोन होने से रहा। इनका देश की अर्थव्यवस्था में 60 फीसदी हिस्सा है।

यह भी पढ़े: जियो में एक महीने के अंदर पांचवा बड़ा निवेश, केकेआर ने किया 11,367 करोड़ रुपये का निवेश
यह भी पढ़े: हांगकांग प्रदर्शनकारियों की आवाज दबाने के लिए चीन पेश करेगा नया सुरक्षा कानून, ट्रंप ने दी चेतावनी

Loading...