Saturday , January 16 2021
Home / लेटेस्ट न्यूज़ / अदाणी ट्रांसमिशन ने पूरा किया 1300 करोड़ रुपये के एंटरप्राइज वैल्यू के लिए कल्पतरु पावर ट्रांसमिशन से अलीपुरद्वार ट्रांसमिशन का अधिग्रहण

अदाणी ट्रांसमिशन ने पूरा किया 1300 करोड़ रुपये के एंटरप्राइज वैल्यू के लिए कल्पतरु पावर ट्रांसमिशन से अलीपुरद्वार ट्रांसमिशन का अधिग्रहण

भारत की सबसे बड़ी निजी क्षेत्र की पॉवर ट्रांसमिशन कंपनी, अदाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड (एटीएल) ने 51% हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने के समझौते के साथ, कल्पतरु पावर ट्रांसमिशन लिमिटेड (केपीटीएल) से अलीपुरद्वार ट्रांसमिशन लिमिटेड में 49% हिस्सेदारी हासिल कर ली है। कंपनी ने यह अधिग्रहण रेगुलेटरी और अन्य एप्रूवल प्राप्त करने के बाद और ट्रांसमिशन सेवा समझौते के अनुरूप किया है। हिस्सेदारी का अधिग्रहण जुलाई 2020 में हस्ताक्षरित निश्चित समझौतों के अनुसार है।

यह अधिग्रहण, ऑर्गेनिक और इनऑर्गेनिक अवसरों के जरिये, अपने हितधारकों के लिए वैल्यू बढ़ाने की एटीएल की रणनीति के साथ तालमेल में है। इस अधिग्रहण के साथ, एटीएल का संचयी नेटवर्क 15,400 सीकेटी किमी से अधिक तक पहुंच जाएगा, जिसमें से 12,200 से अधिक सीकेटी किमी (इस संपत्ति सहित) में परिचालन हो रहा है और 3,200 सीकेटी किमी से अधिक कार्यान्वयन के विभिन्न चरणों में है।

परिसंपत्ति का संक्षिप्त अवलोकन:

अलीपुरद्वार ट्रांसमिशन लिमिटेड पश्चिम बंगाल और बिहार में लगभग 650 सीकेटी किमी की ट्रांसमिशन लाइनों का परिचालन करता है। परियोजना ‘बिल्ड, ओन, ऑपरेट, मेन्टेन बेसिस’ पर  प्रतिस्पर्धी बोली प्रक्रिया के माध्यम से प्राप्त की गई थी। अलीपुरद्वार से सिलीगुड़ी तक ट्रांसमिशन लाइन को शामिल करने वाली परियोजना के एलिमेंट 1 को 20 जनवरी 2020, और किशनगंज से दरभंगा तक ट्रांसमिशन लाइन को शामिल करने वाली परियोजना के एलिमेंट 2 को 6 मार्च 2019 को चालू किया गया था।

अदाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड के बारे में

अदाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड (एटीएल) भारत के सबसे बड़े व्यापारिक समूहों में से एक, अदाणी ग्रुप की ट्रांसमिशन एवं डिस्‍ट्रिब्‍यूशन बिजनेस शाखा है। एटीएल देश की सबसे बड़ी निजी ट्रांसमिशन कंपनी है, जिसका संचयी ट्रांसमिशन नेटवर्क 15,400 सीकेटी किलोमीटर से अधिक है, जिसमें से 12,200 सीकेटी किलोमीटर से अधिक परिचालन की स्‍थिति में है और 3,200 सीकेटी किलोमीटर से अधिक निर्माण के विभिन्न चरणों में है। एटीएल मुम्बई में लगभग 3 मिलियन से अधिक ग्राहकों को सेवा देने वाला एक डिस्‍ट्रिब्‍यूशन बिजनेस भी संचालित करता है। आने वाले वर्षों में ऊर्जा के मामले में भारत की चौगुनी जरूरत को देखते हुए, एटीएल मजबूत और भरोसेमंद पॉवर ट्रांसमिशन नेटवर्क बनाने के लिए, और रिटेल ग्राहकों की सेवा करने तथा 2022 तक ‘सबके लिए बिजली’ का लक्ष्‍य प्राप्त करने की दिशा में पूरी सक्रियता से काम करने के लिए तैयार है।