Saturday , September 21 2019
Breaking News
Home / Hindi / तो इसलिए नींद की कमी से होती है याददाश्त कमजोर…

तो इसलिए नींद की कमी से होती है याददाश्त कमजोर…

भाग दौड़ भरी लाइफ स्टाइल से लोगों की याददाश्त पर काफी असर पड़ रहा है। जल्दबाजी में हम काफी अहम चीजों को कमजोर याददाश्त की वजह से भूल जाते हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक एक अच्छी नींद ही तेज दिमाग की चाबी है। उनका कहना है कि अच्छी नींद लेने के बाद हम उन तथ्यों को याद रख सकते है जो हम कभी-कभार जागते हुए भी याद नहीं रख पाते हैं। नींद के कारण न सिर्फ हम अपनी याददाश्त को सुरक्षित रख पाते हैं, बल्कि इसे आसानी से दोहराया भी जा सकता है। हम भाग-दौड़ में काफी अहम चीजों को कमजोर याददाश्त के कारण भूल जाते हैं।

पपीते के गुण जानकर हो जाएंगे हैरान, कीजिए रोज सेवन!

अच्छी अच्छी नींद तेज दिमाग की चाबी

शोधकर्ताओं के मुताबिक एक अच्छी नींद ही तेज दिमाग की चाबी है। नींद के कारण हम अपने दिमाग में छिपी कई चीजों को याद कर सकते हैं, अच्छी नींद की वजह से याददाश्त को बरकरार रखने ऊर्जा मिलती है, उससे ये संकेत मिलते हैं कि कुछ बातें सारी रात नींद के दौरान और भी तेज याद रहती है। यह इस धारणा का समर्थन करता है कि सोते हुए हम महत्वपूर्ण जानकारियों का अभ्यास करते हैं। जहां एक स्थिति में लोग 12 घंटे तक जागने की वजह से कुछ जानकारियों को भूल जाते हैं, वहीं दूसरी स्थिति में रातभर की नींद से हम उन जानकारियों को आसानी से याद कर पाते हैं, जिन्हें शुरुआती तौर में जागते हुए याद करने में एक हफ्ते का समय लगता है। डॉक्टरों के मुताबिक मस्तिष्क में टेम्पोरल लोब की एक आंतरिक संरचना हिप्पोकैम्पस के ही वजह से याददाश्त को बनाए रखने में ओर बढ़ावा मिलता है, यह इंसान के मस्तिष्क में दबी हुई बातों को बाहर निकालता है और उन्हें मूल रूप से दिमाग के उसी छिपे हुए स्थान पर फिर से रीप्ले करता है।

पुदीने में छूपे हैं कई गुण, जो रखेंगे सेहत को ठीक!

भरपूर नींद से होगी याददाश्त तेज

इस रीप्ले की वजह से हम दिनभर में हुए महत्वपूर्ण अनुभवों को अपने मस्तिष्क में जीवित रख पाते हैं। शोध के दौरान टीम ने उपन्यास के पढ़े गए शब्दों को दोहराया, जो उन्होंने या तो नींद से पहले अध्ययन किया था। इसके बाद जब उनसे दोनों स्थितियों के दौरान अध्ययन की गई चीजों को दोहराने के लिए कहा गया तो इससे ये तथ्य सामने आया कि जागते रहने की तुलना में इंसान नींद के दौरान अध्ययन की गई चीजों को दोहराने में ज्यादा सक्षम होता है। इस तथ्य पर अधिक अभ्यास के बाद अंत में यही निष्कर्ष निकाला गया कि नींद न सिर्फ याददाश्त को बनाए रखने में मदद करती है, बल्कि उसे बेहतर तरीके से दोहराए जाने में भी मदद करती है।

नाखून बताएंगे आपकी सेहत ठीक है या नहीं!

 

Loading...
Loading...